आतंकी मुठभेड़ में बिहार का लाल शहीद, रात में बात कर पत्नी से जल्द आने का किया था वादा, सुबह देश के लिए दी शहादत

कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में दो जवान शहीद हुए हैं। शहीद जवान में एक छपरा के रहने वाले हैं। नगरा थाना क्षेत्र के खोदाईबाग,मकसूदपुर निवासी अशगर अली उर्फ बबलू (33वर्ष) है। अशगर अली के शहीद होने की ख़बर मिलते ही गांव में सन्नाटा छा गया है। शहीद अशगर 2011 में बतौर कॉन्स्टेबल केंद्रीय औधोगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) में भर्ती हुए थे। बुधवार की रात ही अशगर की पत्नी से बात हुई थी। उन्होंने जल्द आने का वादा किया था।

शहीद अशगर को एक बेटा और बेटी है। बेटे की उम्र तीन साल है। वहीं, बेटी की उम्र मात्र 18 महीने है। अशगर दो महीने पहले ही अपने गांव खोदाईबाग आए थे। मृतक अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहते थे। लेकिन दो महीने पहले स्पेशल ट्रेनिंग पर कश्मीर गए हुए थे। प्रशिक्षण के दौरान गुरुवार की सुबह मुठभेड़ हुई। इसमें अशगर अली को गोली लग गई। उन्हें इलाज के लिए ले जाया गया, जहां उनकी सांसें थम गई।

16 मई को विवाह समारोह में आने वाले थे शहीद अशगर

अशगर के परिजनों ने भास्कर रिपोर्टर को बताया था कि वह 16 मई को साले की शादी में शरीक होने के लिए गांव आने वाले थे। पत्नी से बात कर जल्द ही आने को बोल रहे थे। बुधवार की रात बातचीत के बाद सुबह शहीद होने की ख़बर मिली। इसके बाद पत्नी बार-बार बेहोश हो रही है।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.