हाय रे शराबबंदी ! बहन की शादी कराने के लिए बना डिलीवरी ब्यॉय, 4 खेप लाने पर मिलता था 20 हजार का महीना

ट्रेनों से शराब की खेप लाने के लिए धंधेबाज अब स्टाफ रख रहे हैं। इसके लिए धंधेबाज युवको को 20 हजार रुपये के महीने दे रहे है। ताजा मामला मुज़फ़्फ़रपुर जंक्शन का है। जहां जीआरपी ने गोंदिया-बरौनी एक्सप्रेस में छापेमारी कर एक डिलीवरी बॉय को गिरफ्तार किया है। उसके पास से दो अलग महंगे ब्रांड के 94 बोतल बरामद किया गया है। सभी शराब की बोतले पंजाब निर्मित है।

गिरफ्तार युवक अपनी बहन की शादी कराने के लिए शराब तस्करी से जुड़ गया। इसके बाद वह पश्चिम बंगाल व दिल्ली से शराब की खेप पहुंचाने का काम करने लगा। इसी दौरान उसे मुज़फ़्फ़रपुर जीआरपी ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपी समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय थाना के रामपुर जलालपुर निवासी मिंटू कुमार है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। आरोपी ने बताया कि परिवार की जिम्मेदारी उस पर है। बहन की शादी करनी है। इसको लेकर वह शराब शराब लाने का काम करने लगा।

वह शराब की खेप दलसिंहसराय में देता है। वहा उसे खेप पहुंचाने के पैसे मिलते है। महीने में 4 खेप शराब लाते है। इसके एवज में उसे 20 हजार रुपये मिल जाते है। शराब की खेप वह दिल्ली व पश्चिम बंगाल से लाता है। उसने पुलिस को बताया कि वह दिल्ली से औंरिहर जंक्शन आया था। वहां उसने ट्रेन बदलकर गोंदिया-बरौनी एक्सप्रेस में शराब की खेप लेकर बैठ गया। लेकिन, मुज़फ़्फ़रपुर में पकड़ा गया।

इधर, मामले में प्रभारी थानेदार भवेश दिनकर ने बताया कि शराब के साथ एक युवक को पकड़ा गया है। दिल्ली से शराब की खेप ला रहा था। पूछताछ में पता चला कि पूर्व में भी वह जेल जा चुका है। उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। पूछताछ के बाद न्यायिक हिरासत में भेजने की कवायद की जा रही है।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.