‘बबुआ डॉन’ ने मंगाई थी शराब, बोचहां व गायघाट में खपानी थी खेप, संपत्ति जब्ती की होगी कार्रवाई

मुजफ्फरपुर, वरीय संवाददाता।

 

सकरा थाना के धर्मागतपुर से तितरा आशानंद जाने वाली सड़क से जब्त शराब से लोड ट्रक माफिया बबुआ डॉन ने मंगाई थी। बोचहां थाना के चकहाजी गांव का प्रिंस यादव अपने तीन साथियों के साथ बबुआ डॉन के ठिकाने पर शराब अनलोड कराने ले जा रहा था।

शराब की खेप सकरा में मंगाकर बोचहां व गायघाट में खपानी थी। इस दौरान एएलटीएफ व सकरा पुलिस की संयुक्त टीम ने छापेमारी कर शराब लदे ट्रक के साथ चार तस्करों को गिरफ्तार कर लिया।

डीएसपी पूर्वी मनोज कुमार पांडेय ने शुक्रवार को अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान इसकी जानकारी दी। बताया कि गिरफ्तार शराब धंधेबाज प्रिंस यादव का बड़ा सिंडिकेट है। उसके खिलाफ गायघाट, बोचहां सहित कई थानों में शराब से जुड़े एक दर्जन से अधिक केस दर्ज हैं। बबुआ डॉन सिंडिकेट की शराब थी। प्रिंस यादव ने शागिर्दों के साथ शराब को उसके ठिकाने तक पहुंचाने का ठेका लिया था। शराब अनलोड करने के बाद इसकी डील होनी थी। डीएसपी पूर्वी ने बताया कि गिरफ्तार चारों आरोपितों को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट के आदेश पर सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

संपत्ति जब्ती की होगी कार्रवाई

डीएसपी पूर्वी मनोज कुमार पांडेय ने बताया कि गिरफ्तार प्रिंस यादव सहित अन्य धंधेबाजों की संपत्ति का आकलन किया जा रहा है। इसके बाद आर्थिक अपराध इकाई पटना को संपत्ति जब्त करने का प्रस्ताव भेजा जायेगा। फरार चल रहे बबुआ डॉन की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम छापेमारी कर रही है। बता दें कि गुरुवार सुबह शराब लोड ट्रक जब्त किया गया था। गिरफ्तार आरोपितों के पास से विशेष टीम को 7.65 लाख रुपये मिले थे। गिरफ्तार आरोपितों में बोचहां थाना के चकहाजी का प्रिंस कुमार, कुढ़नी के जवाडीह का राकेश कुमार, सीतामढ़ी के महिंदवारा थाना क्षेत्र का उपेंद्र कुमार, रविंद्र राय शामिल है।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.