Muzaffarpur में श्राद्ध का भोज खाकर लौटे दर्जनों बच्चे समेत कई बीमार, स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप, गांव में कैंप कर रही मेडिकल टीम

मुजफ्फरपुर के रूपौली गांव में श्राद्ध के भोज में खाने के बाद करीब 30 लोग बीमार हो गए हैं। इसमें 20 बच्चे भी शामिल हैं। कई को सरैया पीएचसी में भर्ती कराया गया है। कुछ लोग मुजफ्फरपुर में निजी अस्पताल में भी भर्ती हुए हैं। मामला मंगलवार की रात का है। भर्ती हुए बच्चों में एक की मौत भी हो गई है।

 

फूड प्वॉइजनिंग वजह बता रहे हैं लोग

सरैया प्रखंड के रूपौली गांव में भोज खाकर लौटने के बाद अचानक लोग उल्टी करने लग गए। बच्चों की भी सेहत खराब होने लगी। इससे गांव में दहशत का माहौल बन गया। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इलाज के दौरान बिगन महतो के 10 साल के बेटे निशांत कुमार ने दम तोड़ दिया। ग्रामीणों के मुताबिक फूड प्वॉइजनिंग की वजह से लोग बीमार पड़ गए हैं। गांव में राजू महतो के घर पिछले दिनों किसी की मौत हो गई थी। उन्हीं के घर मंगलवार को श्राद्ध का भोजन था।

 

 

जिला प्रशासन के निर्देश पर विभाग अलर्ट

सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। सिविल सर्जन डॉ. विनय कुमार शर्मा ने मामले पर त्वरित कार्रवाई करते हुए सरैया प्रभारी को प्रभावित गांव में मेडिकल टीम भेजने का निर्देश दिया। इसके बाद प्रभारी डॉ. डीसी शर्मा ने दो एंबुलेंस के साथ चिकित्सकों की टीम और दवा भेजी। टीम ने बीमार लोगों को देर रात तक एंबुलेंस से सरैया पीएचसी में भर्ती कराया।

 

पीएचसी प्रभारी डॉ. डीसी शर्मा ने बताया कि दो एंबुलेंस से बीमार 20 लोग लाए गए हैं। सभी का पीएचसी लाकर इलाज किया जा रहा है। मुजफ्फरपुर में एक निजी अस्पताल में बीमार एक बच्चे की मौत होने की पुष्टि भी उन्होंने की है। प्रभारी ने बताया कि बुधवार को मेडिकल टीम गांव में कैंप कर अन्य लोगों का इलाज शुरू कर देगी।

 

 

इनपुट: दैनिक भास्कर

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.