अजब गजब: पहले किया प्रेम विवाह और 6 साल बाद रचा डाली दूसरी शादी, फिर पहली पत्नी के साथ….

पहले प्यार किया। फिर ब्याह रचा लिया। शादी के छह वर्षों के बाद पत्नी और बच्चे को धोखा देकर दूसरी शादी रचाने पति चला तो पहली पत्नी की हत्या की साजिश करने लगा। पति के करतूत की जानकारी मिलने पर जब पहली पत्नी अपने बच्चे के साथ ससुराल पहुंची तो उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। मामला महिला थाना पहुंचा। 31 जुलाई को पीडि़ता ने अपने पति सहित सुरालवालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। कार्रवाई की टकटकी में पीडि़ता अपने ससुराल के एक कमरे में डंटी रही।




इस दौरान ससुराल वाले उसे लगातार प्रताडि़त करते रहे। कई बार पीडि़ता ने थाना का चक्कर लगाया। लेकिन, सोमवार को जो कुछ हुआ उससे समाज में आक्रोश है। विश्वविद्यालय थानाक्षेत्र के सुंदरपुर स्थित लक्ष्मीपुर नयाटोला निवासी अमृतेष मोहन के माता-पिता और बुआ ने बबली को जान से मारने की कोशिश की। गला दबाने के बाद जब वह चिल्लाई तो आस-पास के लोग पहुंचे। इसके बाद उसकी जान बची। ससुर श्यामानंद झा, सास सुनीता देवी और बुआ सास मंजू देवी के खिलाफ स्थानीय लोग भड़क गए। तीनों के खिलाफ स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। पीडि़ता ने कहा कि उसकी हत्या करने की साजिश रचा जा रहा है।


बता दें कि पीडि़ता व हरियाणा के गुडग़ांव निवासी बबली ने 14 अप्रैल 2013 के अमृतेष मोहन से हरियाणा में प्रेम विवाह की। 2019 में उसने एक पुत्र को जन्म दी। इसके बाद वह अपने बच्चे और पति के साथ ससुराल आ गई। लेकिन, इस बीच ससुरालवाले उसे दहेज के लिए प्रताडि़त करने लगे। पांच लाख रुपये दहेज की मांग कर रहे थे। दहेज नहीं देने के कारण अमृतेष ने सात लाख रुपये दहेज लेकर दूसरी शादी कर ली। मामला प्रकाश में आने के बाद ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय ने दैनिक कर्मी अमृतेश को हटा दिया। बावजूद इसके न तो उसमें कोई सुधार हुआ और नहीं ससुराल पक्ष के अन्य लोगों में।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.