मुजफ्फरपुर में प्रॉपर्टी डीलर से 50 लाख रंगदारी कांड में ऑडियो Viral, कुख्यात मंटू शर्मा और शूटर गोविंद ने दी थी धमकी

मुजफ्फरपुर जिले के मिठनपुरा थाना क्षेत्र के नंदबिहार कालोनी निवासी प्रॉपर्टी डीलर विजेंद्र कुमार से 50 लाख की रंगदारी मांगने के मामले में एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पीड़ित को VPN कॉल कर रंगदारी मांगी गई थी। रंगदारी की राशि नहीं देने पर उसकी हत्या की धमकी दी है। इसे लेकर प्रॉपर्टी डीलर ने मिठनपुरा थाने में केस दर्ज कराया था। इस घटना को दो सप्ताह बीत चुके हैं। इसमे कुख्यात मंटू शर्मा, पूर्व मेयर मर्डर केस के शूटर गोविंद, ओंकार सिंह समेत कई का नाम सामने आया था। इन सब के खिलाफ पीड़ित ने केस भी दर्ज कराया था। पर अबतक पुलिस कार्रवाई नदारद है। अपराधी को पकड़ना तो दूर। अबतक जिस नम्बर से कॉल आया था उसका डिटेल भी नहीं मिला है और न लोकेशन का पता पुलिस को लगा है। इस बीच एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

 

भैया-भैया कहकर बात कर रहे प्रॉपर्टी डीलर

 

इस ऑडियो में जो सामने से धमकी दे रहा है। उसके बारे में कहा जा रहा है कि वह मंटू की आवाज है। पीड़ित उसे भैया-भैया कहकर बातचीत कर रहे हैं। ऑडियो में वह धमका रहा है। कह रहा है कि तुम जल में रहकर मगरमच्छ से बैर करेगा। पीड़ित कहते हैं-भैया अब हम इसमे क्या कर दिए। हम तो सबको बोले थे कि हम इसमे नहीं है। हमको फ्री कर दीजिये। इसपर सामने से वह कहता है कि अब तुम इसमे हो या न हो। लेकिन, तुम्हारा जो फाइनल हुआ है। वह तुम्हे पहुंचाना पड़ेगा।

 

दहशत में पीड़ित प्रॉपर्टी डीलर

 

पीड़ित ने बताया कि वे काफी दहशत में हैं। घर से भी कम निकलते हैं। हालांकि पुलिस की तरफ से उन्हें सुरक्षा गार्ड मुहैया कराया गया है। बावजूद इसके वे सतर्कता बरत रहे हैं। अबतक पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं किये जाने से निराश भी हैं। कहा कि घर से सदस्य भी दहशत में हैं।

 

यह है पूरा मामला

 

प्रोपर्टी डीलर ने बताया कि बेला के इमली चौक स्थित 30 कटठा जमीन का सौदा यशस्वी शंकर तिवारी से किया है। 10 मई को एग्रीमेंट कराया है। सबसे पहली बार 11 जुलाई को उनके मोबाइल पर व्हाटसएप काल आया। जो VPN के द्वारा किया गया था। बोला गया कि मैं गोविंद बोल रहा हूं। बेला व मिठनपुरा मेरा इलाका है। इस क्षेत्र में काम कराने से पहले 50 लाख रुपये देना होगा। नहीं तो जान से हाथ धोना पड़ेगा।फिर 17 जुलाई को उनके प्लाट पर ओंकार सिंह, गोविंद शर्मा, बाबुल चौधरी समेत पांच लोग हथियार से लैस होकर पहुंचे थे। मजदूरों के साथ मारपीट की। हथियार लहराते हुए काम बंद करने का धमकी दिया। इस घटना के बाद प्रोपर्टी डीलर ने काम बंद करा दिया। 12 अगस्त को उनके मोबाइल पर तीन बार काल आया। लेकिन, रिसीव नहीं किया। इसके बाद व्हाट्सएप पर उसी नंबर से रंगदारी व धमकी भरा मैसेज आया। 18 अगस्त की सुबह से लेकर दोपहर तक तीन बार फिर काल आया। काल रिसीव करने पर गोविंद शर्मा बात किया। पैसे की चर्चा करते हुए कांफ्रेस पर मंटू शर्मा को जोड़ दिया। मंटू शर्मा तरह-तरह से भयभीत करके 50 लाख की रंगदारी की मांग किया। राशि नहीं देने पर पूरे परिवार की हत्या की धमकी दी। कहा कि समीर कुमार की घटना की याद कर लो। उससे भी बुरा हाल तुम्हारा करुंगा।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.