बिहार में चोरों का गजब उत्पात, ठप कर डाला DM-SP का टेलीफोन, केबल ही काट कर ले गए

मधुबनी शहर के जलधारी चौक से भूप नारायण सिंह कॉलोनी तक पोल के सहारे लगाए गए ओवर हेड केबल 27 अक्टूबर की रात अज्ञात लोगों ने काट लिए। जिससे डीएम आवास, एसपी आवास सहित एक दर्जन से अधिक वरीय पदाधिकारियों के अलावा करीब 50 उपभोक्ताओं की दूरसंचार सेवा ठप हो गई। केबल काट लेने से विभाग को करीब दो लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है।




दूरसंचार निगम के जिला प्रबंधक सुमन कुमार झा ने बताया कि केनाल निर्माण कार्य जारी रहने के कारण पोल के सहारे ओवर हेड केबल लगाया गया था। जिला प्रशासन से केबल काटने वालों को चिन्हित कर कार्रवाई तथा केबल की निगरानी की व्यवस्था बहाल करने की मांग की है। बता दें कि मई 2021 में शहर के थाना चौक से जलधारी चौक तक केनाल निर्माण के दौरान दूरसंचार का भूमिगत केबल क्षतिग्रस्त हो गया था। क्षतिग्रस्त केबल को लेकर दूरसंचार विभाग द्वारा करीब 44 लाख रुपये की क्षतिपूर्ति के लिए दूरसंचार विभाग द्वारा बुडको को आवेदन दी गई थी। इसकी सूचना जिला प्रशासन को दी जा चुकी है। अब तक बुडको द्वारा क्षतिपूर्ति राशि का भुगतान नहीं किया गया है।


चार दूरसंचार कार्यालय को 5जी सुविधा से जोडऩे की चल रही प्रक्रिया 
दूरसंचार निगम के जिला प्रबंधक सुमन कुमार झा ने बताया कि मधुबनी, बेनीपट्टी, जयनगर, फुलपरास दूरसंचार कार्यालय को 5जी सुविधा से जोडऩे की प्रक्रिया चल रही है। मधुबनी व झंझरपुर में 4जी बीटीएस कार्य कर रहा है। जिले के अन्य बीटीएस को 4जी सुविधा से लैस किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शिक्षित बेरोजगारों के लिए बीएसएनल सभी टेलीफोन केंद्र में एफटीटीएच (फायवर टू होम) के जरिए इंटरनेट सुविधा प्रदान करने के लिए एमएसओ (मल्टी सर्विस आपरेटर) की नियुक्ति की जा रही है। नियुक्ति आपरेटर को इंटरनेट कनेक्शन के आधार पर 30 से 50 प्रतिशत राजस्व का लाभ मिलेगा। इसके तहत जिले में 24 आपरेटर काम कर रहे हैं। इच्छुक आपरेटर अपने क्षेत्र में सेवा देकर आमदनी बढ़ा सकता है


टेलीफोन अदालत में एक मामले का निष्पादन 
भारत संचार निगम लिमिटेड की ओर से स्थानीय भारत संचार निगम के प्रशासनिक भवन में शुक्रवार को टेलीफोन अदालत आयोजित की गई। जिसमें एक मामला का निष्पादन किया गया। दूरसंचार के जिला प्रबंधक सुमन कुमार झा ने बताया कि टेलीफोन अदालत में मामलों का निष्पादन नहीं कराने वालों पर अब कानूनी कार्रवाई की प्रकिया शुरू की जाएगी। टेलीफोन अदालत में उपभोक्ताओं के लैंडलाइन, पोस्टपेड, मोबाइल, एफडीटीएच के पुराने लंबित विपत्र का निष्पादन की सुविधा दी गई थी।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.