Muzaffarpur में रेल लाइन किनारे बने छठ घाटों की RPF व GRP करेगा निगरानी, रेल SP ने दिए निर्देश

मुजफ्फरपुर: जिले में पांच सहित 11 जिलों में 81 जगहों पर बने छठ घाटों की निगरानी के लिए जीआरपी और आरपीएफ की तैनाती की गई है। मुजफ्फरपुर रेल एसपी अशोक कुमार सिंह ने छठ घाटों की निगरानी के लिए सभी थानाध्यक्षों को आदेश दिया है। जीआरपी थानाध्यक्ष दिनेश कुमार साहू ने बताया कि सभी पुलिसकर्मियों को ड्यूटी चार्ट दे दिया गया है। 10 नवंबर की शाम और 11 को सुबह घाट के समय धीमी गति से ट्रेनें गुजरेंगी।




रेल एसपी ने बताया कि छठव्रती और उनके स्वजन घर से दूर नदियों, तालाबों के घाटों पर अ‌र्घ्य देने के लिए जाते हैं। साथ ही उनके साथ अन्य श्रद्धालु भी होते हैं। रास्ते में उन्हें कभी-कभी रेलवे क्रासिग, रेलवे लाइन भी पार करना पड़ता है। ऐसे आवागमन के स्थानों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। मानव रहित रेलवे क्रासिग पर छठव्रतियों के आवागमन के मार्गों में पड़ने वाली रेलवे लाइनों के पास सुरक्षा व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। इधर सोनपुर डीआरएम के आदेश पर मुजफ्फरपुर आरपीएफ इंस्पेक्टर पीएस दुबे ने रेल लाइन किनारे के सभी घाटों पर फोर्स तैनात किया है। इधर रेलवे की ओर भी 10 नवंबर की शाम और 11 नवंबर की सुबह में काशन पेपर पर गाड़ी चलाने का निर्देश दिया गया है।


बता दें कि 2016 में समस्तीपुर-दरभंगा रेलखंड के रामभद्रपुर स्टेशन के पास छठ पूजा कर घाट से लौट रहीं तीन महिलाओं और दो बच्चों की ट्रेन की चपेट में आने से मृत्यु हो गई थी तब से हर साल इस पर विशेष नजर रखी जाती है। इन छठ घाटों पर जीआरपी की तैनाती


-माड़ीपुर पुल के पास रेलवे लाइन के बगल में स्थित तालाब
-आमगोला पड़ाव पोखर रेलवे लाइन की दाहिनी तरफ
-मोतीपुर रेलवे स्टेशन (नरियार हाल्ट) के गेट संख्या-117 के पास
-सीहो एलसी गेट संख्या-87सी के पास
-जुब्बा सहनी संगम घाट

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.