Muzaffarpur में बीते दिनों लूटपाट के दौरान हुई युवती की हत्या मामले की जांच शुरू

शादी की खरीदारी कर भाई के साथ बाइक से घर लौटने के दौरान लूटपाट के दौरान युवती की हत्या मामले में सोमवार को तुर्की ओपी प्रभारी राम विनय सिंह ने जांच की। चुढुआ और बसौली गांव के लोगों से घटना के बारे में पूछताछ की। पुलिस मृतका के परिवार के लोगों व ग्रामीणों से भी घटना के संबंध में जानकारी ली।




अपराधियों की पिटाई और सदमे के कारण भाई की हालत ठीक नहीं है। इसके कारण पुलिस उसका बयान दर्ज नहीं कर पाई है। डीएसपी पश्चिमी अभिषेक आनंद ने बताया कि आसपास में सक्रिय अपराधियों का सुराग लगाकर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। स्थानीय चौकीदार को भी जेल से जमानत पर छूटे अपराधियों के बारे में पता लगाने के लिए कहा गया है। परिजनों का भी बयान लिया जाएगा। बतादें कि शादी की खरीदारी कर पटना से लौटने पर जाम के कारण विलंब हो गया था। शनिवार की रात युवती भाई के साथ बाइक से घर लौट रही थी।


इसी दौरान बसौली गांव के सुनसान रास्ते पर पुल के पास अपराधियों ने रॉड से हमला कर दिया था। इसमें युवती गंभीर रूप से घायल हो गई थी, उसका भाई जान बचाने के लिए मौके से भागा। इस बीच अपराधी बैग से कीमती सामान व 60 हजार रुपए लूटकर फरार हो गए। शोर पर ग्रामीण जुटे, तब उसके भाई ने कॉल करने पर परिवार व अपने गांव के लोगों को सूचना देकर बुलवाया। रविवार की रात में ही युवती को सभी ब्रह्मपुरा स्थित एक अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने मृत बता दिया था। कुछ लोगों के गलत सुझाव के कारण पुलिस को सूचना नहीं दी गई। अगले दिन शव को सपुर्दे खाक भी कर दिया गया था।

INPUT: Hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.