मुजफ्फरपुर में महज 10 जवानों के भरोसे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था, चुनाव में लगी अधिकतर पुलिसकर्मियों की ड्यूटी

मुजफ्फरपुर। शहर की ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गई है। हर दिन जाम से लोग जूझ रहे। इसके बावजूद यातायात में तैनात सभी 80 जवानों को पंचायत चुनाव में ड्यूटी लगा दी गई है। नतीजतन सोमवार को शहर में भीषण ट्रैफिक जाम की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। यातायात डीएसपी रवींद्रनाथ सिंह ने बताया कि सभी जवानों को पंचायत चुनाव के कारण बुलाया गया है।




चुनाव में डयूटी लगी है। चुनाव संपन्न होने के बाद फिर जवान आएंगे। इसी रोटेशन में काम चल रहा है। रविवार को पुलिस लाइन से 10 प्रशिक्षु जवानों को यातायात थाने में प्रतिनियुक्त किया गया। कहा कि इन जवानों के भरोसे ही सोमवार को पूरे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था की जिम्मेवारी रहेगी। जबकि 40 से अधिक पोस्ट है। ऐसे में किस तरीके से ट्रैफिक व्यवस्था का संचालन किया जाएगा। यह बड़ा सवाल यातायात में तैनात पुलिस पदाधिकारियों के सामने है। वरीय अधिकारियों का इस दिशा में कोई ध्यान नहीं है। बता दें कि जाम से निजात दिलाने को रणनीति तो बन रही है, मगर धरातल पर इसका असर नहीं दिख रहा। इसके कारण हर दिन लोगों को ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ता है।


हाईवे पर लगी वाहनों की लंबी कतार शहर के साथ-साथ हाईवे पर भी ट्रैफिक जाम की समस्या बनी रही। जाम के कारण लोग परेशान रहे। बताया गया कि बीबीगंज पुल व चांदनी चौक हाईवे पर ट्रैफिक जाम के कारण वाहनों की लंबी कतार लगी रही। जाम की सूचना पर यातायात डीएसपी व थानाध्यक्ष को मौके पर पहुंचना पड़ा। इसके बाद आवागमन सुचारु हुआ। यातायात डीएसपी ने बताया कि जवानों की कमी के कारण जाम की समस्या बन रही है। इधर वरीय पुलिस अधिकारियों ने संबंधित सभी थानाध्यक्षों को अपने इलाके में ट्रैफिक व्यवस्था सुचारु रखने का निर्देश दिया है, मगर संबंधित थानाध्यक्षों की तरफ से ट्रैफिक जाम पर ध्यान नहीं दिया जाता है। नतीजा जाम के कारण लोगों को काफी परेशानियों को सामना करना पड़ता है।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.