Muzaffarpur में अगले साल खुलेगी एक और कैंटीन, 55 हजार से अधिक पूर्व सैनिकों को मिलेगा लाभ

मुजफ्फरपुर। नए साल में मुजफ्फरपुर मिलिट्री स्टेशन हेडक्वार्टर (एमएसएच) के अधीन आने वाले पूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों को सौगात मिलेगी। 2022 की पहली तिमाही में पूर्व सैनिकों को एक स्थायी कैंटीन मिलेगी। रक्षा मंत्रालय ने इसके लिए अलग से यूआरसी (यूनिट रन कैंटीन) कोड भी जारी किया है। इसे सेंट्रल कमांड ने स्थानीय स्टेशन को भेजा है। पांच सदस्यीय बोर्ड कैंटीन खोलने की तैयारी में जुट गया है।




जिला सैनिक कल्याण बोर्ड के नोडल पदाधिकारी पूर्व वायु सैनिक मनोज कुमार सिंह ने बताया कि मुजफ्फरपुर मिलिट्री स्टेशन हेडक्वार्टर में एक नई कैंटीन खोलने को लेकर स्वीकृति मिली है। ग्रोसरी व लिकर दोनों उपलब्ध कराने को लेकर अनुमति मिली है। हालांकि, बिहार में लिकर प्रतिबंधित है।


इसके लिए बिहार सरकार के आबकारी विभाग से विशेष अनुमति लेने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि कैंटीन खोलने को लेकर पांच सदस्यीय टीम का गठन भी किया गया है। इसे अलग-अलग जिम्मेवारी दी गई है। 2022 की पहली तिमाही तक कैंटीन का लाभ पूर्व सैनिकों, सेवारत और इनके आश्रितों को मिल सकता है।

INPUT: Hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.