Muzaffarpur के कार्टन फैक्ट्री का मालिक दूसरे दिन भी नही हुए फायर अफसर के सामने हाजिर, फैक्ट्री का होगा फायर ऑडिट

मुजफ्फरपुर। बेला औद्योगिक क्षेत्र के फेज-दो में मंगलवार को एक कार्टन फैक्ट्री में लगी आग के 36 घंटे बाद भी फैक्ट्री के मालिक फायर अफसर के पास नहीं पहुंच सके।




बुधवार तक अगर नहीं पहुंचे तो उनके खिलाफ राज्य मुख्यालय को पत्र भेजकर एकतरफा कार्रवाई कर दी जाएगी। जिला अग्निशमन पदाधिकारी संतोष कुमार पांडेय ने बताया कि, प्रथम दृष्टया जांच में उक्त फैक्ट्री में फायर का कोई सिस्टम नहीं पाया गया। तीन साल पहले बोचहां में इसी तरह एक फैक्ट्री में शाट-सर्किट से आग लगने पर सात लोग ङ्क्षजदा जल गए थे।


संयोग अच्छा था कि इस कार्टन फैक्ट्री में साइड से आग लगी थी नहीं तो इसमें भी जानमाल का भारी नुकसान हो जाता। एक दर्जन लोग फैक्ट्री में उस वक्त काम कर रहे थे। कार्टन फैक्ट्री में स्क्रैप के साथ कई फ्रीज भी जला है। बता दें कि मंगलवार को बेला फेज-2 के कार्टन फैक्ट्री में बिजली के पैनल में शाट-सर्किट से आग लगने की बात सामने आई थी।


फायर सिस्टम नहीं होने पर होगी कार्रवाई
कार्टन फैक्ट्री में आग लगने के बाद अन्य फैक्ट्रियों में फायर आडिट गुरुवार से शुरू की जाएगी। फायर ऑफिसर ने कहा कि, जांच के दौरान अगर फायर सिस्टम नहीं पाया गया तो वैसे फैक्ट्री के मालिकों पर कार्रवाई की जाएगी। उनके खिलाफ सरकार में लिखा जाएगा उसके बाद उनकी फैक्ट्री सील कर दी जाएगी।

INPUT: Hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.