दुष्कर्म व अपहरण की वारदातों में सूबे में दूसरे स्थान पर मुजफ्फरपुर, SCRB ने जारी किया डाटा

स्टेट क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एससीआरबी) ने सूबे के पिछले नौ माह का अपराध डाटा जारी किया है। रिपोर्ट के अनुसार सितंबर 2021 तक हत्या की वारदातों में राजधानी पटना पहले स्थान पर है। यहां 141 हत्याएं हो चुकी हैं। दूसरे स्थान पर मोतिहारी है, जहां 125 कत्ल हुए हैं। रेप के मामलों में मुजफ्फरपुर सूबे में दूसरे स्थान पर है। यहां 71 रेप की घटनाएं हुई हैं। पूर्णिया में 73 रेप की घटनाएं हुई हैं और यह पहले स्थान पर है। इस मामले में पटना तीसरे स्थान पर है, जहां रेप के 66 मामले विभिन्न थानों में दर्ज किए।




एससीआरबी के मुताबिक, सितंबर 2021 तक पटना में 24 हजार 228 संज्ञेय अपराध दर्ज किए गए। इसमें हत्या के 141, रेप के 66, लूट के 127 और किडनैपिंग के 838 मामले दर्ज हैं। पूर्णिया में 82 लोगों की हत्या की गई। इस जिले में लूट के 64 और किडनैपिंग के 267 केस दर्ज किए गए। मुजफ्फरपुर में हत्या के 87 केस विभिन्न थानों में दर्ज किए गए। किडनैपिंग के मामले में पटना के बाद मुजफ्फरपुर दूसरे स्थान पर है, जहां 551 केस दर्ज किए गए। रिपोर्ट के मुताबिक, चंपारण रेंज के मोतिहारी में 125 लोगों की हत्याएं हुईं, जो सूबे में दूसरे स्थान पर है। इस मामले में गया तीसरे स्थान पर है, जहां 104 कत्ल हुए। चौथे स्थान पर नालंदा (92 केस), पांचवें पर सारण (91 केस), छठे पर वैशाली (90 केस) है। मोतिहारी में जनवरी से सितंबर 2021 के बीच 9905 संज्ञेय अपराध दर्ज किए गए, जो मुजफ्फरपुर से 309 अधिक हैं।


इधर, तिरहुत रेंज के आईजी गणेश कुमार ने बताया कि तिरहुत रेंज में आपराधिक मामलों के साथ संज्ञेय अपराध भी घटे हैं। आगे भी कोशिश है कि आपराधिक मामले कम हो। इसके लिए लगातार केसों की समीक्षा और अपराधियों की गिरफ्तारी आदि की कार्रवाई तेजी से की जा रही है। जिसका नतीजा है कि अपराध में कमी आ रही है।


आंकड़ों में वारदात (चंपारण, मिथिला व तिरहुत रेंज) :

जिला हत्या रेप किडनैपिंग लूट

मोतिहारी 125 47 278 91
बगहा 25 11 93 09
बेतिया 34 30 133 17
मुजफ्फरपुर 87 71 551 61
वैशाली 90 23 362 86


सीतामढ़ी 54 36 256 54
शिवहर 07 10 46 07
दरभंगा 42 46 214 29
समस्तीपुर 74 40 261 72
मधुबनी 46 40 190 21

INPUT: hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.