Muzaffarpur में 7 नए थाने बनाने की कवायद, 2 जगहों पर नक्सल थाना भी बनाने की तैयारी

मुजफ्फरपुर में दो नक्सल थाना बनाने की कवायद शुरू कर दो गयी है। नक्सलियों पर गतिविधि पर नज़र रखने और एहतियातन दो थाना बनाये जाएंगे। उक्त दोनों थाना बोचहां के गरहां और पारू के चक्की सुहागपुर में बनेगा। 7.67 करोड़ रुपये से ये दोनों थाना भवन का निर्माण होगा। इस राशि से फर्नीचर और अन्य संसाधन भी खरीदे जाएंगे। गृह विभाग ने राशि आवंटित की स्वीकृति दे दी है। ये G PLUS 2 थाना भवन होगा। यानी ग्राउंड फ्लोर के ऊपर दो और फ्लोर होंगे।




नक्सल फिर से पैर नहीं पसार सके
वैसे तो जिला को अब नक्सल मुक्त माना जाने लगा है। इसलिए एंटी नक्सल आपरेशन चलाने वाली SSB की 32 बटालियन को गया जिले के डोभी में शिफ्ट कर दिया गया है। लेकिन, एहतियातन ये कदम उठाये जा रहे हैं। ताकि नक्सली फिर से पांव नहीं पसार सके। जिले में नक्सलियों की सक्रियता से इंकार नहीं किया जा सकता है। हाल में जेल में बंद नक्सली रोहित के पास से मोबाइल मिलने से पुलिस महकमा अलर्ट मोड पर है। उसे सेल में बंद कर दिया गया है। सुरक्षा के मद्देनजर जांच पड़ताल जारी है।


सात नया थाना भी बनेगा
इन दो नक्सल थानों के अलावा सात नया थाना भी बनेगा। जिसमे राजेपुर, रामपुर हरि, यजुआर, झपहां, गन्नीपुर, SKMCH गन्नीपुर और दो थाना का विस्तार किया जाएगा, जिसमे पानपुर (कांटी) और बेला थाना है। वहीं 6.35 करोड़ से हथौड़ी थाना का नया भवन भी बनाया जाएगा। इसके लिए भी राशि की स्वीकृति मिल गई है।


SSP जयंतकांत ने बताया कि 2012 से ये प्रस्ताव पास थे। लेकिन, जमीन नहीं मिलने के कारण मामला रुका हुआ था। अब जमीम चिन्हित कर लिया गया है। बोचहां और पारू में थाना बनने से क्राइम कंट्रोल में भी बहुत मदद मिलेगी। अहियापुर और दियारा क्षेत्र में अपराध और नक्सल गतिविधि पर पूरी तरह नकेल कसा जा सकेगा।

INPUT: Bhaskar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.