वायु प्रदूषण के नए रिकॉर्ड बना रहा Muzaffarpur, सांस संबंधित बीमारियों का बढ़ा खतरा, सड़को पर उड़ रही धूल

मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर में वायु प्रदूषण का ग्राफ दीपावली के बाद लगातार ऊपर की ओर से है। सोमवार को पटना से आगे अपने शहर के प्रदूषण का ग्राफ पहुंच गया। मुजफ्फरपुर का प्रदूषण ग्राफ 351 एक्यूआइ, गया का 167 एक्यूआइ तो पटना 325 एक्यूआई पर पहुंचा।




शनिवार से बढ़ रहा लगातार स्तर
पिछले तीन दिनों से पटना व गया से आगे प्रदूषण का ग्राफ चल रहा है। सेंट्रल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार को मुजफ्फरपुर का प्रदूषण का ग्राफ 356 एक्यूआइ पर था। जबकि पटना का एक्यूआइ 328 तो गया का एक्यूआइ 221 पर पहुंचा था। रविवार को प्रदूषण का स्तर मुजफ्फरपुर 347 एक्यूआइ, पटना 345 एक्यूआइ, गया 236 एक्यूआइ पर पहुंचा। सोमवार को मुजफ्फरपुर का प्रदूषण स्तर 351 एक्यूआइ, गया का 167 एक्यूआई तो पटना का ग्राफ 325 एक्यूआइ पर सिमटा।



सांस संबंधी बीमारी का प्रभाव बढ़ा
सदर अस्पताल के मेडिसीन विशेषज्ञ डा.सीके दास ने बताया कि प्रदूषण बढऩे से लोगों में सुबह में सांस लेने में परेशानी की शिकायतें मिल रही हैं। आम लोगों से अपील है कि वह मास्क का उपयोग करें। कचरे को इधर-उधर नहीं जलाएं। शहर में जाम भी प्रदूषण को बढ़ावा देने में सहायक हो रहा है। इससे बचाव पर ध्यान देने की जरूरत है।


ये बन रहे प्रदूषण के कारण
— पुराने वाहन, मिलावटी तेल से चल रहा है उससे बढ़ रहा प्रदूषण
– शहर में उड़ रहे धूलकण तथा जाम लगने के कारण भी प्रदूषण का ग्राफ बढ़ रहा।


वायु प्रदूषण का ये रहा ग्राफ
तिथि—-मानक

तीन नवंबर—244 एक्यूआइ
चार नवंबर—285 एक्यूआइ
पांच नवंबर—306 एक्यूआइ
छह नवंबर–303 एक्यूआइ


सात नवंबर–321 एक्यूआइ
आठ नवंबर —358 एक्यूआइ
10 नवंबर —-249 एक्यूआइ
11 नवंबर—-256 एक्यूआइ
12 नवंबर—-202 एक्यूआइ


13 नवंबर—255 एक्यूआइ
14 नवंबर—254 एक्यूआइ
15 नवंबर–231 एक्यूआइ
16 नवंबर—290 एक्यूआइ
17 नवंबर—254 एक्यूआइ


18 नवंबर—316 एक्यूआइ
19 नवंबर—333 एक्यूआइ
20 नवंबर–353 एक्यूआइ
21 नवंबर—347 एक्यूआइ


22 नवंबर—351 एक्यूआइ
वायु गुणवत्ता का ये है मानक

शून्य से 50 के बीच एक्यूआइ अच्छा, 51 से 100 संतोषजनक, 101 से 200 मध्यम, 201 से 300 खराब, 301 से 400 बहुत खराब और 401 से 500 के बीच को गंभीर श्रेणी में माना जाता है।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.