शराबबंदी के लिए आज फिर से शपथ, 11 बजे सभी अधिकारी और कर्मचारियों खाएंगे शराब ना पीने सौगंध

आज नशा मुक्ति दिवस है। नशा मुक्ति दिवस के मौके पर राज्य में आज शराबबंदी को सफल बनाने के लिए एक बार फिर से शपथ अभियान चलाया जाएगा। सुबह 11 बजे राज्य सरकार के सभी अधिकारी और कर्मचारी आजीवन शराब ना पीने की शपथ लेंगे। राज्य सरकार ने इस आयोजन के लिए पहले ही तैयारी कर ली है। राज्य के मुख्य सचिवालय, विधानसभा, सभी विभागों, जिले, प्रखंड और पंचायतों में कर्मियों को अपने-अपने ऑफिस परिसर में शपथ लेनी होगी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर एक बार फिर शपथ दिलाई जा रही है।




जागरूकता अभियान की शुरुआत
आज सुबह-सवेरे राज्य के सभी जिलों में सरकारी स्कूलों से प्रभात फेरी निकाली जा रही है। सभी जिलों के डीएम के निर्देश पर प्रभातफेरी कार्यक्रम का आयोजन जन जागरूकता के लिए किया जा रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज जागरूकता रथ को भी रवाना करने वाले हैं। शराबबंदी को सफल बनाने के लिए जिन लोगों ने बेहतर काम किया है मुख्यमंत्री आज उन्हें सम्मानित भी करेंगे। राज्य सरकार ने सभी स्तर पर शपथ लेने के कार्यक्रम का वीडियोग्राफी कराने का भी निर्देश दिया है।


शपथ पत्र में क्या होगा
आज राज्य सरकार के सभी कर्मियों अधिकारियों को जो शपथ पत्र लिखित तौर पर देना है उसका फॉर्मेट इस तरीके से है… मैं आज 26 नवंबर को सत्यनिष्ठा के साथ यह शपथ लेता/लेती हूं कि मैं आजीवन शराब का सेवन नहीं करूंगा/करूंगी। मैं कर्तव्य पर उपस्थित रहूं अथवा न रहूं, अपने दैनिक जीवन में भी शराब से संबंधित गतिविधियों में किसी प्रकार से शामिल नहीं होऊंगा/होऊंगी। शराबबंदी को लागू करने के लिए जो भी विधि-सम्मत कार्रवाई अपेक्षित है, उसे करूंगा/ करूंगी। यदि शराब से संबंधित किसी भी गतिविधि में शामिल पाया जाऊंगा/जाऊंगी तो नियमानुसार कठोर कार्रवाई का/की भागीदार बनूंगा/बनूंगी।


ज्ञान भवन में बड़ा आयोजन
नशा मुक्ति दिवस के मौके पर राजधानी पटना के ज्ञान भवन में सरकार की तरफ से बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शामिल होंगे साथ ही साथ विशिष्ट अतिथि के तौर पर डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद और रेणु देवी भी मौजूद रहेंगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता राज्य के उत्पाद एवं निबंधन मंत्री सुनील कुमार करेंगे। मुख्यमंत्री शराबबंदी को लेकर इस कार्यक्रम से कई महत्वपूर्ण घोषणाएं कर सकते हैं राज्य में शराबबंदी को लागू हुए 5 साल पूरे हो चुके हैं और अब इसे और सख्त तरीके से अमलीजामा बनाने का संकल्प मुख्यमंत्री ने लिया है।

INPUT: FirstBihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.