Bihar की आयशा खातून ने रचा इतिहास, महज 21 साल की उम्र में 15 सालों से राज कर रही मुखिया को हराया

भागलपुर की सबसे कम उम्र की महिला मुखिया के रूप में आयशा खातून ने जीत हासिल की है। यह फतेहपुर पंचायत की उम्मीदवार थी, जिन्होंने 1191 मत लाकर अपने निकटतम प्रतिद्वंदी अनुराधा कुमारी को 327 मत से पराजित किया है। इतना ही नहीं, इस क्षेत्र की निवर्तमान मुखिया, जो लगातार 15 सालों से मुखिया पद पर काबिज थी, उनको आयशा ने 656 मतों से करारी हार दी है।




शिक्षा के संबंध में पूछे जाने पर आयशा ने बताया कि ये सबौर महाविद्यालय के स्नातक तृतीय खण्ड (राजनीति शास्त्र) की छात्रा हैं। जन्म 11 सितंबर 2000 को पीरपैंती में हुआ था। 22 जुलाई 2017 को इनका विवाह मो ताज हुसैन से हुआ, जो एक इंजीनियर हैं। पिछली बार इनकी सास अशरफुन मुखिया पद की उम्मीदवार थीं, लेकिन दूसरी स्थान पर आकर ये पराजित हो गई थी।


आयशा खातून के अनुसार उन्होंने शादी के बाद से ही क्षेत्र में फील्डिंग करनी शुरू कर दी थी। इस क्रम में इन्होंने अब तक 450 लोगों के राशनकार्ड, 500 मजदूरों का जॉब कार्ड बनवाया है। इसके अलावे अन्य छोड़े-बड़े काम करना शुरू कर दिया था। जीत के बाद इन्होंने कहा कि अब खुलकर क्षेत्र का विकास करेंगे। इसमें सड़क से लेकर शिक्षा तक शामिल होगा।

INPUT: Bhaskar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.