Muzaffarpur में भतीजे के डेरा पर आए रेलकर्मी ने लगाई फांसी, अहमदाबाद में था कार्यरत

मुजफ्फरपुर। गुजरात के अहमदाबाद में कार्यरत रेलकर्मी रमेश कुमार ने रामदयालु नगर अतरदह मोहल्ले में भतीजा पंकज के डेरा पर सोमवार की दोपहर गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।




रमेश सीतामढ़ी के सोनबरसा इलाके का था। अंदर से बंद गेट को खोलकर पंखे से लटक रहे उसके शव को फंदे से उतारा गया। काजी मोहम्मदपुर थानेदार सत्येंद्र सिन्हा ने बताया कि प्रेमप्रसंग के एंगल से छानबीन की जा रही है। परिजनों के बयान से मामला स्पष्ट होगा। भतीजा पंकज इंटर का छात्र है। वह घटना के समय कोचिंग चला गया था।


पंकज ने पुलिस को बताया कि चाचा की शादी नहीं हुई थी। रविवार शाम कमरे पर आए थे। बताया था कि सोमवार को अहमदाबाद निकलना है। ट्रेन का टिकट नहीं मिल पाया तो फ्लाइट का टिकट ले लिया। पटना से फ्लाइट है। सोमवार को निकल जाऊंगा। बताया कि इसके बाद देर रात वह खाना खाकर सो गए। सुबह में पंकज कोचिंग के लिए निकल गया। कोचिंग के बाद जब वह वापस लौटा तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। काफी खटखटाने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला तो अनहोनी की आशंका हुई। खिड़की खोला तो देखा कि चाचा का शव पंखे से झूल रहा है। हल्ला किया तो आसपास के लोग आ गए। मकान मालिक भी मौके पर पहुंचे। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। जिसके बाद पुलिस ने दरवाजा का तोड़कर शव को उतारा।

INPUT: Hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.