Muzaffarpur की धरती ‘उगल’ रही शराब, BBA का छात्र समेत 5 पकड़ाए

मुजफ्फरपुर में देसी शराब बनाने का अवैध धंधा अभी भी जारी है। लगातार कार्रवाई होने के बावजूद चोरी छिपे कई जगहों पर शराब बनाई जा रही है। कांटी में इसी देसी शराब का सेवन करने से छह लोगों की मौत हुई थी। इसके बाद जिले में व्यापक पैमाने पर अभियान चलाया गया। बावजूद इसके इस धंधे पर पूरी तरह नकेल नहीं कसा है। उत्पाद विभाग की टीम ने अहियापुर थाना के चतुरी पुनास में छापेमारी की। वहां देसी शराब की फैक्ट्री का उद्भेदन किया गया। तलाशी लेने पर जमीन के पांच फीट अंदर से बड़े-बड़े गैलन में भरकर रखी गयी देसी शराब बरामद हुई। जिसे जमीन खोदकर निकाला गया और नष्ट किया गया।




उत्पाद अधिकारी कुमार रविशंकर ने बताया कि 1000 लीटर से अधिक गुड़ मिश्रित तरल पदार्थ, शराब बनाने की सामग्री जिसमें बर्तन, गैस चूल्हा, सिलेंडर समेत अन्य सामान था, उसे जब्त किया गया। मौके से एक धंधेबाज महेंद्र चौधरी को गिरफ्तार किया गया। जबकि दो आरोपी राजू और उपेंद्र फरार हो गए। सभी के खिलाफ अभियोग दर्ज किया गया है। गिरफ्तार आरोपी महेंद्र को आज जेल भेजा जाएगा।


BBA का छात्र समेत तीन गिरफ्तार
सदर थाने की पुलिस ने शेरपुर से दो बोतल शराब के साथ बाइक सवार BBA के छात्र समेत तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों में पूर्णिया का राहुल कुमार, सीतामढ़ी किशनपुर का अमित रंजन, कटिहार जिले के फल्का थाना के बड़ी चातर निवासी आकाश कुमार है। दारोगा जैनेंद्र कुमार झा के बयान पर FIR दर्ज की गयी है। इसमें एक BBA का छात्र भी है। इधर, केमिकल युक्त ताड़ी के साथ फकुली के महेंद्र को भी गिरफ्तार किया गया है। उसे भी जेल भेजने की कवायद की जा रही है।

INPUT: Bhaskar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.