Muzaffarpur के SKMCH में आंखफोड़वा कांड के पीड़ितों से मिलने पहुंचे Pappu Yadav, कहा- अब मरीजों के जान पर भी खतरा

मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में ऑपरेशन कराने वाले 10 मरीज को 2 दिन से नहीं हो रहा आपरेशन। जन अधिकार पार्टी सुप्रीमो व पूर्व सांसद राजेश रंजन पप्पू यादव आज एसकेएमसीएच पहुंचे।




वहां विशेष वार्ड में भर्ती आंख के मरीजों का हालचाल लिया।एसकेएमसीएच में मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद ऑपरेशन के बाद संक्रमित 21 लोग भर्ती हैं। इसमें से 11 की एक एक आंख निकाल दी गई है। 10 लोगों को भर्ती कर इलाज चल रहा है। पूर्व सांसद पप्पू यादव ने इलाज व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया कि जिन लोगों को भर्ती किया गया, उनकी एक आंख चली गई है। अब उनकी जान पर खतरा है। यादव ने कहा कि इस मामले में अविलंब ऑपरेशन होना चाहिए ताकि इंफेक्शन नहीं बढे। अगर आंख का इन्फेक्शन बढ़ता है तो जान जा सकती है।


वार्ड में भर्ती एक गरीब असहाय मरीज को अपने कोष से 5000 रुपए सहायता दी। यादव ने आरोप लगाया कि एक तो गरीबों को मुजफ्फरपुर आई हॉस्पिटल में इलाज के नाम पर ठगा और उनकी आंख खराब कर दी। अब जब ये लोग सरकारी अस्पताल में आए हैं तो 2 दिन से ‌टहलाया जा रहा है। जब इन्हें दर्द हो रही है तो केवल सूई दिया जा रहा है। सूई देकर दर्द दबाने से बीमारी ठीक नहीं होगी। बेहतर इलाज होना चाहिए। जिन लोगों की आंख में इंफेक्शन है, उनकी अविलंब सर्जरी हो ताकि उनके शरीर में इंफेक्शन नहीं बढे। जान पर खतरा नहीं हो।


पूर्व सांसद पप्पू यादव ने सारे प्रभावित मरीजों को 5–5 लाख मुआवजा देने। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद प्रबंधक की गिरफ्तारी करने और चिकित्सकों के सारे कागजात की जांच करने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि आई हॉस्पिटल में बेहतर लेंस हाई क्वालिटी का लगाकर इलाज होना चाहिए । लेकिन घटिया क्वालिटी का लेंस लगाया गया, यह दुखद है। अगर सही तरीके से जांच, गरीबों का सही तरीके से इलाज व बेहतर सर्जरी नहीं हुई तो सड़क से सदन तक जाम कर दिया जाएगा। जरूरत पड़ेगी तो जन अधिकार पार्टी पूरे बिहार में आंख खराब करने वाले मामले को लेकर आंदोलन करेगी।

INPUT:

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.