मुजफ्फरपुर में आयुष्मान भारत योजना के तहत 12587 लोगों का हुआ इलाज, 5 लाख तक निशुल्क इलाज की है व्यवस्था

गरीब परिवारों को पांच लाख तक निशुल्क इलाज की व्यवस्था के लिए आयुष्मान भारत योजना चलाई जा रही है। कोरोना के दौरान इसका लाभ बहुत से परिवारों को नहीं मिल पाया। उस समय बीमारी का कहर इतना ज्यादा था कि अस्पताल में हर तरह की बीमारी का इलाज संभव नहीं था। अभी भी बहुत से परिवार इस योजना का लाभ कार्ड के अभाव में नहीं उठा पा रहे हैं। जिस हिसाब से हर जगह पर शिविर लगाकर कार्ड बनना चाहिए, वह नहीं हो रहा है।




कुछ नए लोग भी कार्ड लेना चाहते हैं, लेकिन उनका नाम अभी नहीं जुट रहा। इसे लेकर भी जगह-जगह नाराजगी देखने को मिलती है। सिविल सर्जन डा.विनय कुमार शर्मा ने बताया कि गरीबों के इलाज के लिए यह अतिमहत्वाकांक्षी योजना है। सदर अस्पताल में नियमित इस योजना के तहत जो लाभ लेने वाले हैं, उनको जागरूक किया जा रहा है। पीएचसी स्तर पर जागरूकता की सुविधा है। जिनके पास कार्ड है, वे मुफ्त इलाज करा रहे हैं।


इलाज की यह रफ्तार
जिले में इस योजना के तहत पांंच लाख 20 हजार 7 सौ 94 परिवार के 24 लाख 91 हजार 8 सौ 79 लोगों को इस योजना से सीधे लाभ देने का लक्ष्य रखा गया है। जिनके पास इस योजना का कार्ड है, वे अपने परिवार के लोगों का इलाज करा सकते हैं। इनके इलाज के लिए सरकारी स्तर पर 19 तथा 40 निजी अस्पताल का चयन किया गया है। अभी दो लाख 99 हजार 67 गोल्डेन कार्ड बनाया गया है। कार्ड बनाने की प्रक्रिया जारी है। अभी 12 हजार 5 सौ 87 लोगों का इलाज इस योजना के तहत किया गया है। इलाज में कोई संकट नहीं हो, इसके लिए हर स्तर पर निगरानी की जा रही है। जो निजी अस्पताल योजना से जुड़े हैं, वहां किसी तरह की हेराफेरी न हो इसका पूरा ख्याल रख जा रहा हैै। जिला कार्यक्रम प्रबंधक बीपी वर्मा ने बताया कि शिविर लगातार कई बार इस योजना के लिए कार्ड बनाया गया है।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.