बेतिया व बगहा बॉर्डर के रास्ते शराब की खेप मंगवा रहे Muzaffarpur के तस्कर, पुलिस के एक्शन से लगातार पकड़ा रही बड़ी खेप

मुजफ्फरपुर। सारण और बंगाल बॉर्डर पर चेकिंग तेज होने के बाद मुजफ्फरपुर के तस्कर अब यूपी से सटे बेतिया और बगहा के जंगली इलाके से शराब की खेप ला रहे हैं। बीते आठ दिन के अंदर दो ट्रक शराब बेतिया और बगहा पुलिस जिला में पकड़ी गई है।




दोनों शराब लदे ट्रक को मुजफ्फरपुर पहुंचना था। बगहा के मदनपुर चेक पोस्ट पर सोमवार सुबह शराब की खेप पकड़ी गई है। पुलिस को देखकर ट्रक से चालक कूदकर जंगल में भाग गया। पुलिस ने चेक किया तो 582 कार्टन शराब मिली। आठ दिन पहले बेतिया में 343 कार्टन शराब लोड ट्रक जब्त हुआ था। इसे भी मुजफ्फरपुर के ब्रह्मपुरा इलाके में लाया जा रहा था।


बगहा के एसडीपीओ कैलाश प्रसाद ने बातया है कि शराब लदा ट्रक बगहा जंगली इलाके में उत्तर प्रदेश की ओर से पहुंचा था, जिसे बेतिया और मोतिहारी होकर मुजफ्फरपुर ले जाया जाता। हालांकि, शराब की खेप किस तस्कर ने मंगवाई थी, यह चिह्नित नहीं हो पाया है। ट्रक पर कार्पेट की कतरन के बीच शराब के कार्टन छिपाकर रखे गए थे। नौरंगिया थानेदार विनय मिश्रा ने बताया है कि ट्रक पर दो ब्रांड की शराब थी, जो चंडीगढ़ की बनी हुई है।


इससे पहले बेतिया के नानामती-जौकटिया के बीच एनएच 727 पर बीते 29 नवंबर को बंगाल नंबर की ट्रक पर दो ब्रांड की 343 कार्टन शराब जब्त की गई थी। शराब के कार्टन बड़े-बड़े ट्रांसफार्मर के खोल में छिपाकर रखे गए थे। मझौलिया थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने शराब लदे ट्रक के साथ पंजाब के संगूर जिले के निवासी चालक गुरविंदर सिंह को भी पकड़ा था। बेतिया एसपी उपेंद्र वर्मा ने बताया कि शराब लदा ट्रक ब्रह्मपुरा इलाके के एक गोदाम में पहुंचाना था। बेतिया पुलिस उसे लेकर ब्रह्मपुरा पहुंची। यहां पर एएलटीएफ और ब्रह्मपुरा थानेदार पुलिस लाइन इलाके और एमआईटी के आसपास उस गोदाम को चिह्नित करने के लिए गुरविंदर सिंह के साथ दो घंटे तक भटकी, लेकिन गुरविंदर चिह्नित नहीं कर पाया। इस तरह काफी छानबीन के बाद गुरविंदर को वापस बेतिया भेज दिया गया। अब गुरविंदर को मिले मोबाइल नंबर के आधार पर शराब तस्कर को चिह्नित करने का प्रयास चल रहा है।

INPUT:Hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.