Muzaffarpur जिले में शराब के 11,641 केस अभी भी लंबित, बड़ा सवाल- आखिर कैसे प्रभावी होगी शराबबंदी ?

मुजफ्फरपुर में शराब के धंधेबाजों व शराबियों पर नकेल कसने के लिए उत्पाद व मद्य निषेध विभाग ने दो अतिरिक्त अधिवक्ताओं की प्रतिनियुक्ति की है। आरोपितों को सजा दिलाने के लिए पहले से जिले में एक-एक विशेष लोक अभियोजक, अनुमंडल अभियोजन अधिकारी व अधिवक्ता प्रतिनियुक्त हैं।




अब पांच अभियोजन अधिकारी व अधिवक्ताओं की टीम जिले में कार्य करेगी। अभी जिले में शराब के कुल 11 हजार 641 केस लंबित हैं।

प्रतिदिन भेज रहे हैं कार्यवाही की रिपोर्ट
उत्पाद व मद्य निषेध के विशेष कोर्ट में होने वाले कार्यवाही की प्रतिदिन की रिपोर्ट पर मुख्यालय अवलोकन कर रहा है। पूर्व में विशेष कोर्ट में होने वाली कार्यवाही की मासिक रिपोर्ट उत्पाद व मद्य निषेध विभाग के मुख्यालय के पास भेजी जाती थी। विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के निर्देश पर विशेष लोक अभियोजक बजरंग प्रसाद सिंह प्रतिदिन विशेष कोर्ट में होने वाले कार्यवाही की रिपोर्ट भेज रहे हैं। उन्होंने बताया कि विशेष कोर्ट में कुल 11 हजार 641 केस लंबित हैं। इसमें पुलिस की ओर से दर्ज नौ हजार चार सौ 39 व उत्पाद विभाग की ओर से दर्ज दो हजार 202 केस लंबित हैं। बढ़ते केस को लेकर अदालत की संख्या बढ़ाने की मांग विभाग से की गई है।


बेतिया, बगहा बॉर्डर से मंगा रहे शराब की खेप
सारण और बंगाल बॉर्डर पर चेकिंग तेज होने के बाद मुजफ्फरपुर के तस्कर अब यूपी से सटे बेतिया और बगहा के जंगली इलाके से शराब की खेप ला रहे हैं। बीते आठ दिन के अंदर दो ट्रक शराब बेतिया और बगहा पुलिस जिला में पकड़ी गई है। दोनों शराब लदे ट्रक को मुजफ्फरपुर पहुंचना था। बगहा के मदनपुर चेक पोस्ट पर सोमवार सुबह शराब की खेप पकड़ी गई है। पुलिस को देखकर ट्रक से चालक कूदकर जंगल में भाग गया। पुलिस ने चेक किया तो 582 कार्टन शराब मिली।


बगहा के एसडीपीओ कैलाश प्रसाद ने बातया है कि शराब लदा ट्रक बगहा जंगली इलाके में उत्तर प्रदेश की ओर से पहुंचा था, जिसे बेतिया और मोतिहारी होकर मुजफ्फरपुर ले जाया जाता। हालांकि, शराब की खेप किस तस्कर ने मंगवाई थी, यह चिह्नित नहीं हो पाया है। ट्रक पर कार्पेट की कतरन के बीच शराब के कार्टन छिपाकर रखे गए थे। नौरंगिया थानेदार ने बताया है कि ट्रक पर दो ब्रांड की शराब थी, जो चंडीगढ़ की बनी हुई है।


इससे पहले बेतिया के नानामती-जौकटिया के बीच एनएच 727 पर बीते 29 नवंबर को बंगाल नंबर की ट्रक पर दो ब्रांड की 343 कार्टन शराब जब्त की गई थी। मझौलिया थानाध्यक्ष ने शराब लदे ट्रक के साथ पंजाब के संगूर जिले के निवासी चालक गुरविंदर सिंह को भी पकड़ा था। बेतिया एसपी उपेंद्र वर्मा ने बताया कि शराब लदा ट्रक ब्रह्मपुरा के एक गोदाम में पहुंचाना था जो चिह्नित नहीं हो सका।

INPUT:Hindustan

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.