सेना का हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त: 11 लोगों की मौत की पुष्टि, CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी सवार थीं

नई दिल्ली: तमिलनाडु में ऊटी में वायुसेना के एमआई-17 सैन्य हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने को लेकर रक्षा मंत्री कुछ ही देर में संसद में बयान दे सकते हैं जिसमें देश के शीर्ष सैन्य अधिकारी सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और कई वरिष्ठ अधिकारी सहित 14 लोग सवार थे.




इस दुर्घटना में अब तक 11 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है जबकि तीन लोगों को बचाया गया है. सीडीएस रावत कई अन्य घायलों के साथ लगिरी जिले के वेलिंगटन छावनी स्थित अस्पताल में गंभीर हालत में भर्ती हैं.


संसद में बयान देने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह घटनास्थल का दौरा करेंगे. वहीं, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन भी घटनास्थल पर पहुंचेंगे.


तमिलनाडु के कोयंबटूर और सुलूर के बीच दुर्घटना के क्षेत्र में कुछ शवों को पहाड़ी से नीचे की ओर देखा जा सकता है. शवों को निकालने और पहचान के प्रयास जारी हैं. आस-पास के ठिकानों से खोज और बचाव अभियान शुरू किया गया है.


12 सदस्यीय टीम के साथ कम से कम छह एम्बुलेंस टीमों को दुर्घटनास्थल पर भेजा गया है। सूत्रों ने कहा कि अस्पताल भेजे गए मरीजों की स्वास्थ्य स्थिति गंभीर बनी हुई है।


भारतीय वायुसेना ने एक बयान जारी कर कहा कि वायुसेना का एक एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर, तमिलनाडु के कुन्नूर के पास आज दुर्घटना का शिकार हो गया जिसमें सीडीएस जनरल बिपिन रावत सवार थे. दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दिए गए हैं.

INPUT: lokmatnews

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.