Muzaffarpur आई हॉस्पिटल पर कार्रवाई की तैयारी, रद्द हो सकती है मान्यता, पीड़ितों से मिले डिप्टी CM

मुजफ्फरपुर: जूरन छपरा स्थित आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के दौरान फैले इंफेक्शन और लोगों की आंख निकालने की घटना सामने आने के बाद अस्पताल प्रबंधन पर बड़ी कार्रवाई की जा सकती है। स्वास्थ्य विभाग फिलहाल जांच टीम से मिली रिपोर्ट का अध्ययन कर रहा है। अस्पताल की मान्यता रद्द करने सहित अन्य कार्रवाई पर भी विचार हाे रहा है। जांच टीम ने अस्पताल प्रशासन की कई गड़बड़ियां उजागर की है।




स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार ऑपरेशन के दाैरान लापरवाही के कारण ही इतनी बड़ी घटना घटी है। 65 लोगों की आंखों में संक्रमण फैला और 15 लोगों की आंखें निकालनी पड़ीं। इस मामले के दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इधर, मुजफ्फरपुर पुलिस भी जांच रिपोर्ट मिलने के बाद कार्रवाई शुरू कर चुकी है। सिविल सर्जन और एसीएमओ के आवेदन के बाद ब्रह्मपुरा थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी। पुलिस को आरंभिक रिपोर्ट के बाद कल्चर रिपोर्ट भी पुलिस काे मिल चुकी है।


एक और पीड़ित पहुंचा आईजीआईएमएस, एक को छुट्‌टी
आईजीआईएमएस में एक और मरीज मंगलवार काे भर्ती हुआ। नेत्र राेग विभाग के हेड डॉ. विभूति प्रसन्न सिन्हा ने कहा कि पीड़ितों की संख्या 19 रह गई है। हालांकि, कुल 20 मरीज भर्ती हुए थे। इन्फेक्शन कम होने के बाद एक मरीज को मंगलवार को छुट्टी भी दी गई। दूसरी ओर, उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद भी मंगलवार को पीड़ितों से मिलने आईजीआईएमएस पहुंचे। उन्होंने मरीजों और उनके परिजनों से बातचीत की। इलाज करने वाले डॉक्टरों से भी स्थिति की जानकारी ली।

INPUT: Bhaskar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.