बिहार में थाने से महज 100 मीटर दूर दिनदहाड़े 50 लाख की लूट, बोरा भर कर गहने ले गये लुटेरे

बिहार में शराब पकड़ने में लगी पुलिस के नाकों तले लुटेरों ने फिर से हैरतअंगेज घटना को अंजाम दिया है. थाने से सिर्फ 100 मीटर की दूरी पर हथियारबंद अपराधियों ने एक गहने की दुकान को लूट लिया. हथियार लहराते हुए अपराधी सोने-चांदी की दुकान में घुसे और फिर 50 लाख रूपये के गहने जेवरात लूट लिये. बाइक पर आये अपराधी बोरे में भरकर गहने जेवरात ले गये.




कांप गया सीवान का रघुनाथपुर बाजार
शुक्रवार को ये घटना दिनदहाड़े लगभग तीन बजे हुई. रघुनाथपुर बाजार में थाने से लगभग 100 मीटर की दूरी पर अवस्थित है ज्योति अलंकार ज्वेलर्स. ये उस बाजार का सबसे प्रमुख आभूषण दुकान है. दिन के तीन बजे 6 लुटेरे तीन बाइक पर सवार होकर आभूषण दुकान में घुसे. सब के हाथ में पिस्तौल था. लुटेरों ने दुकान में घुसते ही दुकानदार औऱ कर्मचारियों को पिस्तौल की नोंक पर अपने कब्जे में ले लिया. फिर लूट की घटना को अंजाम देना शुरू कर दिया.


बोरे में भरकर ले गये सामान
लुटेरों ने दुकान में रखे हर गहने को समेट लिया. ले जाने का कोई दूसरा तरीका नहीं मिला तो एक बोरे में सारे गहनों को भर लिया. फिर हथियार लहराते हुए दुकान से बाहर निकले. बाइक स्टार्ट की और बड़े आराम से वहां से निकल गये. लूट की घटना को अंजाम देकर भागते समय भी वे पिस्तौल लहराते जा रहे थे. लिहाजा आस-पास के लोग उनके करीब नहीं आ सके. वहीं, 100 मीटर की दूरी पर अवस्थित थाने की पुलिस का कहीं कोई अता पता नहीं था.


लुटेरों का वीडियो भी सामने आया
इस घटना को अंजाम देने वाले लुटेरों का वीडियो भी सामने आया है. जब वे दुकान से निकल कर भाग रहे थे तो किसी ने अपने मोबाइल से उनका वीडियो बना लिया. उसमें साफ दिख रहा है कि एक बाइक पर दो लुटेरे बोरा रखकर बैठे हैं, जिसमें दुकान का गहना भरा गया था. लुटेरों का ऑडियो भी है जिसमें वे आपस में भोजपुरी भाषा में ही बात कर रहे हैं. उनकी भाषा से लग रहा है कि वे आस पास के ही रहने वाले हैं. वीडियो में एक लुटेरे का चेहरा भी दिख रहा है.


सीवान में ताबडतोड़ लूट
सीवान में ताबड़तोड़ लूट और डकैती की घटनायें हो रही है. कल रात ही खुद को पुलिसवाले बताकर लुटेरे एक घर में घुसे और कहा कि वे शराब की चेकिंग करने आये हैं. लुटेरों ने वहां से 9 लाख की डकैती की. उससे पहले सीवान नगर थाना क्षेत्र में भीषण डकैती हुई थी. लेकिन पुलिस शायद शराब पकड़ने में लगी है. लिहाजा लुटेरों को पकड़े भी तो कौन.

INPUT: FirstBihar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.