BRA बिहार यूनिवर्सिटी ने 1 और 3 अक्टूबर को होने वाली स्नातक प्रथम वर्ष की परीक्षाएं की स्थगित, जानिए क्या है वजह

मुजफ्फरपुर। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय की ओर से स्नातक सत्र-2019-22 के प्रथम वर्ष की एक और तीन अक्टूबर को आयोजित होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी गई है। विवि की ओर से गुरुवार की दोपहर इसकी अधिसूचना जारी की गई। पत्र जारी होने के बाद छात्र-छात्राएं परेशान हो गए। एडमिट कार्ड लेने के लिए सैकड़ों की संख्या में छात्र-छात्राएं कालेज पहुंचे थे। विवि की ओर से बताया गया कि कई कालेज के प्राचार्य और केंद्राधीक्षकों की ओर से परीक्षा की तिथि को आगे बढ़ाने का आग्रह किया गया।




एडमिट कार्ड में गड़बड़ी की भी शिकायत आई। ऐसे में इसे दो दिनों के भीतर दुरुस्त करते हुए प्रथम दो दिनों में आयोजित होने वाली परीक्षाओं को स्थगित किया गया। इन दोनों परीक्षाओं का कार्यक्रम फिर से जारी किया जाएगा। पहले दिन इतिहास, कामर्स, उर्दू, दर्शनशास्त्र, हिदी व जूलाजी की परीक्षा होनी थी। वहीं तीन अक्टूबर को रसायनशास्त्र, भूगोल, संस्कृत, संगीत, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र व एआइएच एंड सी की परीक्षा ली जानी थी। इन विषयों के प्रथम पत्र की परीक्षाएं इन दोनों तिथियों को प्रस्तावित थीं। अब परीक्षा चार अक्टूबर से शुरू होकर 26 तक संचालित होगी। वहीं स्थगित होने वाली परीक्षाएं इसके बाद आयोजित की जाएंगी।


तीसरी बार भी जारी हुआ गलत एडमिट कार्ड, छात्रों ने जताई नाराजगी
दो बार एडमिट कार्ड में गड़बड़ी के बाद बुधवार से विवि ने स्वयं एडमिट कार्ड की छपाई कराई। कालेजों को विवि की ओर से छापकर जो एडमिट कार्ड भेजा गया उसमें भी काफी गड़बड़ी रह गई। परीक्षा स्थगित करने का मूल कारण यही है। परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि कालेज के प्राचार्यों को एक फार्मेट भेजा गया है। उसमें छात्र-छात्राओं का रोल नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर और नाम दर्ज करने के बाद एडमिट कार्ड में जो गड़बड़ी है और सुधार के बाद क्या होना चाहिए। इसे भरकर दो दिनों में मांगा गया है।


इसके बाद उन एडमिट कार्ड में सुधार किया जाएगा। काफी संख्या में छात्र-छात्राओं ने वैकल्पिक विषय के दिए गए विकल्प के बदले दूसरा विषय दर्ज कर देने की शिकायत की है। वहीं 50 अंक के उर्दू की जगह 50 अंक का हिदी कर दिया गया। इस कारण भी छात्रों को परेशानी हुई। मोतीपुर से आए छात्र रहमान ने कहा कि उन्होंने उर्दू का विकल्प दिया था जबकि एडमिट कार्ड में उसे बदलकर हिदी कर दिया गया। अब समझ नहीं आ रहा कि उर्दू की परीक्षा दें कि हिदी की। परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि छात्र अपने ही विषय की परीक्षा देंगे। एडमिट कार्ड सुधारा जाएगा।


एडमिट कार्ड के लिए कालेजों में उमड़ी भीड़, आरडीएस कालेज में हंगामा स्नातक प्रथम वर्ष की परीक्षा के लिए गुरुवार को सुबह से ही कालेजों में छात्र-छात्राओं की भीड़ उमड़ पड़ी। आरडीएस कालेज में काउंटर की संख्या कम होने के कारण छात्रों की काफी भीड़ हो गई। विलंब होने पर छात्रों ने हंगामा शुरू कर दिया। मामला बिगड़ता देख कर्मचारियों और शिक्षकों ने उन्हें समझाकर शांत कराया। एलएस कालेज, आरडीएस कालेज, एमडीडीएम कालेज, आरबीबीएम कालेज, नीतीश्वर कालेज, रामेश्वर कालेज, एमएसकेबी कालेज, एमपीएस साइंस कालेज समेत अन्य कालेजों में भी शाम चार बजे तक एडमिट कार्ड लेने के लिए भीड़ जमी रही। जब विवि की ओर से परीक्षा स्थगित करने की सूचना दी गई तो इसके बाद विद्यार्थी शांत हुए।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.