Muzaffarpur नगर निगम में 4 निजी एजेंसियों की मदद से 300 कर्मी होंगे बहाल, सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने की तैयारी में जुटा निगम

मुजफ्फरपुर: मानव बल की आपूर्ति के लिए नगर निगम ने निविदा के आधार पर चयनित चार एजेंसियों को सूचीबद्ध किया है। उन्होंने समान दर पर मानव बल उपलब्ध कराने की बात कही थी। निगम ने जिन एजेंसियों को सूचीबद्ध किया है उनमें टेक्नो फैसिलिटी एंड मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड, जेएमडी सर्विस प्राइवेट लिमिटेड, फ्रांट लाइन एनसीआर बिजनेस साल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड एवं मेसर्स सुभाष सिंह शामिल हैं। निगम प्रशासन ने इन्हीं एजेंसियों के माध्यम से तीन सौ कर्मचारियों को बहाल करेगा।




टेक्नो फैसिलिटी को 120 तथा तीन अन्य एजेंसियों को 60-60 कर्मियों को उपलब्ध कराने को कहा गया है। तीन सौ कर्मियों की मदद से निगम सभी वार्डों में सफाईकर्मियों की संख्या 13 से बढ़ाकर 15 कर रहा है। साथ ही सभी गार्वेज टिपर पर सहायक कर्मी व टै्रक्टरों पर पर्याप्त संख्या में सफाई मजदूर मुहैया कराएगा। इसके अलावा निगम दिन व रात पाली में शहर की सफाई के लिए चालकों को बहाल करेगा जो सफाई वाहनों को चलाएंगे। सौ से अधिक चालकों की बहाली भी इन एजेंसियों के माध्यम से होगी। निगम प्रशासन का कहना है कि चार एजेंसियों के होने से यदि किसी एजेंसी के कर्मचारी आंदोलन करते हैं तो दूसरे से मदद ली जा सकती है। इससे कार्य प्रभावित नहीं होगा।


गोस्वामी सिक्योरिटी सर्विसेज से एकरारनामा समाप्त
नगर निगम ने मानव बल उपलब्ध कराने के लिए चयनित चार एजेंसियों को सूचीबद्ध करने के बाद गोस्वामी सिक्योरिटी सर्विसेज के साथ मानव बल उपलब्ध कराने के एकरारनामा को निरस्त कर दिया है। आटो टिपर चालक उपलब्ध कराने के लिए अप्रैल 2016 में एजेंसी के साथ करार किया था। नगर आयुक्त विवेक रंजन मैत्रेय ने 30 सितंबर के बाद एजेंसी के साथ हुए एकरारनामा को समाप्त करने की सूचना एजेंसी को दे दी है।

INPUT: JNN

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.