दरभंगा में SSP के काफिले पर पथराव, बाल-बाल बचे पुलिसकर्मी; गोपालगंज में धमकी देने पर लोगों ने BDO को खदेड़ा

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग शुक्रवार सुबह से चल रही है। गोपालगंज के भोरे इलाके की हुस्सेपुर पंचायत में मतदान के दौरान बवाल हो गया। यहां मतदान करने आए वोटरों ने BDO पर गाली-गलौज और धमकी देने का आरोप लगाया। इसके बाद नाराज लोगों ने बूथ से BDO को खदेड़ दिया। इधर, दरभंगा में चुनाव के दौरान गश्ती पर निकले SSP के काफिले पर पथराव हो गया है। एक गाड़ी का शीशा फूट गया है। मतदान केंद्र पर से भीड़ हटाए जाने के बाद आक्रोशित हो गए थे ग्रामीण।




वहीं, बेतिया के सेमरी पंचायात के बूथ संख्या 305 पर बवाल हुआ है। लोगों ने सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी का शीशा फोड़ दिया। धीमी मतदान को लेकर बूथ पर ग्रामीण भड़क गए थे। बड़ी संख्या में पुलिस टीम मतदान केंद्र पर पहुंच गई है।


वहीं, नवादा जिले के नक्सल प्रभावित रजौली इलाके में मतदाता नाव से मतदान केंद्र पर पहुंचे हैं। यहां मतदान केंद्र और गांव के बीच में फुलवरिया डैम है। डैम को पार करने के लिए मतदाताओं ने नाव का सहारा लिया। उधर, नवादा के ही रजौली में सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या-162 पर वोट देने के लिए वोटर नहीं पहुंच रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि दो मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने वोटिंग से पहले मारपीट की है। इसके विरोध में मतदान बहिष्कार कर दिया है।


35 जिलों के 50 प्रखंडों में चुनाव
सुबह साढ़े 6 बजे से ही महिला और पुरूष मतदान केंद्र पर पहुंचने लगे। मतदान केंद्र पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। कैमूर के चैनपुर प्रखंड के जगरिया पंचायत में बूथ पर बायोमैट्रिक सिस्टम में गड़बड़ी आ गई थी। इस कारण मतदान काफी देर तक शुरू नहीं हो पाया था। जगदीशपुर प्रखंड में कौंरा पंचायत में बूथ संख्या 9,10 का EVM फिर से ठीक कर दिया गया है। इस चरण में 35 जिलों के 50 प्रखंडो में चुनाव होना है। सुबह 7 बजे से शुरू हुआ मतदान शाम 5 तक चलेगा। तीसरे चरण के कुल 23 हजार 128 पदों के लिए 81 हजार 616 उम्मीदवार मैदान में हैं।


6646 भवनों में बनें हैं 10529 मतदान केंद्र
बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में 43061 महिला उम्मीदवार मैदान में हैं। 38555 पुरुष उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। ग्राम पंचायत सदस्य पद के 10240 पदों के लिए 46757 उम्मीदवार मैदान में हैं। पंच के 10240 पदों के लिए 16464 उम्मीदवार मैदान में हैं। मुखिया के 753 पद के लिए 6079 उम्मीदवार मैदान में हैं। पंचायत समिति सदस्य पद के 1034 पद पर 6706 उम्मीदवार मैदान में हैं।


ग्राम कचहरी सरपंच पद के 753 पदों के लिए 4458 उम्मीदवार और जिला परिषद सदस्य के लिए 108 पदों के लिए 1152 उम्मीदवार मैदान में हैं। तीसरे चरण में कुल 57 लाख 98 हजार, 379 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसमें 30,38,427 पुरुष मतदाता, 27,59,756 महिला मतदाता और 196 अन्य मतदाता शामिल हैं। मतदान के लिए 6646 भवनों में 10529 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं।


3144 प्रत्याशी निर्विरोध हो चुके हैं निर्वाचित
सिंगल नॉमिनेशन होने की वजह से तीसरे चरण की 3144 पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। इसमें सबसे अधिक पंच पद के लिए 3020, ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए 118, मुखिया पद के लिए 2, पंचायत समिति सदस्य पद के लिए 3, और ग्राम कचहरी सरपंच पद के लिए 1 पद के लिए निर्विरोध निर्वाचन हुआ है।


तीसरे चरण में 186 पद खाली रह गए
तीसरे चरण के 186 पदों पर कोई नामांकन नही हुआ है। इसमें ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए 7, पंच पद के लिए 176 और ग्राम कचहरी सरपंच पद के लिए 3 पद शामिल है। आयोग का कहना है कि इन पदों पर किसी भी प्रत्याशी ने दावेदारी नहीं की है।

INPUT:Bhaskar

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.