Muzaffarpur के रास्ते गुवाहाटी से बनारस भेजा जा रहा था 2.86 करोड़ का सोना, DRI टीम ने रास्ते में बिछाया जाल और फिर…

मुज़फ़्फ़रपुर DRI और कस्टम विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए जिले के गायघाट मैठी टोल प्लाजा के समीप कार की इंजन में बने तहखाना से करीब तीन करोड़ रुपये के सोने का बिस्कुट बरामद क़िया। कार सवार अंतरराज्जीय गिरोह के तीन तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया है। जो उत्तर प्रदेश और एक दिल्ली का रहने वाला बताया गया है। इनके नाम पते का सत्यापन किया जा रहा है।




तस्करों की लग्ज़री कार को भी जब्त किया गया है। इसपर प्रेस का स्टिकर चिपकाया गया है। ताकि पुलिस से बच सके। हालांकि, सटीक सूचना के आधार पर DRI और कस्टम की टीम ने जाल बिछाकर तस्करों को सोने की बिस्कुट संग दबोच लिया। इंजन में बने तहखाना से 35 बिस्कुट मिले हैं। इसमे कुछ बिस्कुट पर विदेशी मार्का भी अंकित है। पूछताछ में तस्करों ने बताया की इसे बनारस में सप्लाई करने जा रहे थे। सभी बिस्कुटों पर नम्बर भी अंकित है, जो A-1 से शुरू है और C-3 तक है। DRI अधिकारियों का कहना है की यह एक विशेष प्रकार का नम्बर होता है, जो अक्सर तस्कर इस्तेमाल करते हैं।


गुवाहाटी से लेकर चला था : पूछताछ में तस्करों ने बताया की सोने की बिस्कुट को गुवाहाटी से लेकर चला था, जिसे बनारस में सप्लाई करना था। इसके लिए कार की इंजन में विशेष तकनीक से तहखाना बनाया गया था। जिसमे सोने की बिस्कुट को छुपाकर रखा था। तस्करों ने पूछताछ में पहले भी इस तरह से सोने की बिस्कुट की तस्करी करने की बात स्वीकार की है।


अन्य तस्करों के बताए नाम और ठिकाने : DRI अधिकारी ने बताया की गिरफ्तार तस्करों ने अन्य तस्करों के नाम और ठिकाने की जानकारी भी दी है। इस आधार पर आगे की कार्रवाई की जा रही है।
बताया की गुप्त सूचना मिली थी की दूसरे प्रदेश नम्बर की कार से सोने के बिस्कुट की तस्करी करने वाले जिले में पहुंच रहे हैं। इसी आधार पर DRI और कस्टम विभाग के अधिकारियों ने संयुक्त रूप से टीम गठित कर मैठी टोल प्लाजा के समीप घेराबंदी की। आम आदमी की तरह वहां पर रेकी करने लगे। इसी दौरान प्रेस लिखी कार वहां पहुंची। अधिकारियों ने धावा बोलते हुए कार को रूकवाया। तस्करों से पूछताछ की। लेकिन, किसी ने स्वीकार नहीं किया। जब सघन रूप से कार के चप्पे-चप्पे की तलाशी ली गयी तो सोने के बिस्कुट बरामद हुए।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.