DPR और टेंडर के बाद भी नही बने जानलेवा चौराहों पर FlyOver, ठंडे बस्ते में NHAI का प्रोजेक्ट

मुजफ्फरपुर शहर के बीबीगंज और भगवानपुर से लेकर समस्तीपुर के ताजपुर-मुसरीघरारी और दलसिंहसराय तक एनएच 122 (पुराना एनएच 28) के जानलेवा चौराहों (ब्लैक स्पॉट) पर टेंडर-डीपीआर के बावजूद फलाईओवर एवं अंडरपास का निर्माण शुरू नहीं हुआ।

 

एनएच पर चिह्नित ब्लैक स्पॉट में ये सर्वाधिक खतरनाक और व्यस्त चौराहे हैं। एनएचएआई मुख्यालय दो साल पूर्व एनएच से ब्लॉक स्पॉट समाप्त करने का आदेश जारी कर चुका है। तीन साल के सड़क हादसों के सर्वे के आधार पर ब्लॅक स्पॉट चिह्नित करने के बावजूद सर्वाधिक दुर्घटना एवं सड़क हादसों में मौत वाले स्थलों पर काम शुरू नहीं किया गया।

 

मुजफ्फरपुर में गोबरसही से मझौलिया चौक तक एलिवेटेड कॉरिडोर बनाने के लिए दो माह पूर्व डीपीआर बनाकर क्षेत्रीय कार्यालय भेजी गयी। एक सप्ताह के अंदर उसका टेंडर जारी होना था, लेकिन इसी बीच एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी का तबादला हो जाने से मामला ठंडे बस्ते में चला गया। यही हाल बीबीगंज में अंडरपास और भगवानपुर चौक पर फुटपाथ ओवरब्रिज की डीपीआर का है।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.