मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों को बचायेंगे 21 हजार 554 कर्मी, स्वास्थ्य विभाग की ओर से सूची जारी

बच्चों को चमकी बुखार से बचाने के लिए जिला प्रशासन ने विभिन्न क्षेत्रों के 21,554 कर्मियों को लगाया है. प्रशिक्षण के बाद उनके काम का बंटवारा कर दिया गया है. इनमें डॉक्टर, एएनएम, आशा, शिक्षक, जीविका सहित अन्य विभागों के कर्मी शामिल हैं. जिले में एइएस से बच्चों का बचाव हो और बीमारी हो जाये, तो उसका तुरंत इलाज किया जाये, इसके लिए इतनी बड़ी संख्या में कर्मियों को लगाया गया है. इसमें सबसे अधिक शिक्षक हैं, जो स्कूलों में बच्चों को एइएस से बचाव के लिए जागरूक कर रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी सूची में सभी कर्मियों की संख्या का विवरण दिया गया है.

बच्चों में एइएस का लक्षण दिखे, तो करें फोन

स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों को एइएस के त्वरित इलाज के लिए विभिन्न प्रखंडों के अस्पतालों का नंबर जारी किया है. इन नंबरों पर 24 घंटे परामर्श व इलाज की सुविधा उपलब्ध रहेगी. यदि कोई बच्चा चमकी या बुखार से पीड़ित होता है तो अभिभावक इन नंबरों पर फोन करें. उन्हें तुरंत इलाज की सुविधा मिलेगी.

प्रखंड—- मोबाइल नंबर

औराई —- 8544421566

बंदरा —- 8544421601

बोचहां —- 8544421564

गायघाट—- 8544421565

कांटी —- 8544421569

कटरा —- 8544421550

कुढ़नी —- 8544421591

मड़वन —- 9102606724

मीनापुर —- 8544421592

प्रखंड मोबाइल नंबर

मोतीपुर —– 8544421593

मुरौल —– 8544421591

मुशहरी —– 4201167255

पारू —– 8544421596

साहेबगंज —– 8544421597

सकरा —– 8544421598

सरैया —– 8544421559

सदर अस्पताल

0621-2266055, 56

कर्मी—–संख्या

मेडिकल ऑफिसर— 195

आयुष- 26

ब्लॉक लेवल ऑफिसर—- 211

जीएनएम व एएनएम—- 739

आशा फैसिलेटर—- 179

आशा—- 3043

एलएस—- 101

एडब्ल्यू डब्ल्यू —- 4076

पीआरआई मेंबर्स—- 1713

एचएम —- 2186

शिक्षक—- 5009

आरएचपी—- 394

पंचायत सचिव—- 55

जीविका ब्लॉक लेवल—- 197

विकास मिश्र—- 342

एंबुलेंसकर्मी—- 130

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.