Bihar पुलिस के ‘ऑपरेशन प्रहार’ में जिले को सूबे में मिला पांचवां स्थान, बीते माह चला था विशेष अभियान

पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर चलाए गए ‘ऑपरेशन प्रहार के तहत मुजफ्फरपुर ने शराब जब्ती, धंधेबाजों व अन्य गंभीर कांडों के अपराधियों को गिरफ्तार करने में समग्र रूप से सूबे में पांचवां स्थान हासिल किया है।

पिछले माह अप्रैल में विशेष अभियान चला था। पुलिस मुख्यालय ने इसकी रिपोर्ट जारी है।

जिलों में गठित एएलटीएफ (एंटी लीकर टास्क फोर्स) को शराब जब्त करने व धंधेबाजों की गिरफ्तारी करनी थी। पुलिस पर हमला सहित अन्य गंभीर कांडों में गिरफ्तारी के लिए वज्र कंपनी व प्लाटूनों को कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक, एएलटीएफ द्वारा शराब धंधेबाजों को गिरफ्तार करने में मुजफ्फरपुर पहले स्थान पर रहा। शराब जब्त करने में जिले को पांचवां स्थान मिला है। वज्र कंपनी व प्लाटूनों की कार्रवाई के दौरान अपराधियों को गिरफ्तार करने में मुजफ्फरपुर का पटना के बाद दूसरा स्थान है।

वज्र कंपनी व प्लाटूनों की कार्रवाई 368 गिरफ्तार

पुलिस मुख्यालय की रिपोर्ट में बताया गया है कि मुजफ्फरपुर में वज्र कंपनी व प्लाटूनों द्वारा अप्रैल में 368 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। इनमें हत्या, पुलिस पर हमले, हत्या के प्रयास, एससी/एसटी एक्ट व अन्य कांडों के अपराधी शामिल हैं।

एएलटीएफ ने जब्त की 10 हजार 764 लीटर शराब

मुजफ्फरपुर में एएलटीएफ द्वारा 10 हजार 764 लीटर देसी-विदेशी शराब जब्त की गई। शराब भह्वियों को भी ध्वस्त किया गया। 397 धंधेबाजों को गिरफ्तार किया गया। एएलटीएफ की कार्रवाई में शीर्ष पांच जिले: एएलटीएफ की कार्रवाई के दौरान शराब धंधेबाजों की गिरफ्तारी में मुजफ्फरपुर पहले स्थान पर रहा। यहां पर 397 धंधेबाजों को गिरफ्तार किया गया है। सारण में 298, मोतिहारी में 294, भागलपुर में 260, नालंदा में 229 धंधेबाजों की गिरफ्तारी हुई है।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.