मुजफ्फरपुर में बर्फ फैक्ट्री की आड़ में होता था शराब का धंधा, संचालक का बेटा पूर्व में जा चुका जेल, फैक्ट्री परिसर से मिल चुकी है शराब की खेप

मुजफ्फरपुर जिले के साढ़ा डंबर गांव में जिस बर्फ फैक्ट्री का कम्प्रेशर फटने से एक मजदूर की मौत हुई थी। उसकी आड़ में शराब का धंधा चलाये जाने की बात पुलिस जांच में सामने आई है। ये अवैध धंधा कोई और नहीं बल्कि संचालक रूपनन्दन राय का बेटा कृष्णा करता था। वह पूर्व में शराब मामले में जेल भी चुका है। जमानत पर निकलने के बाद वह फिर से शराब के धंधे में संलिप्त हो गया था। फैक्ट्री परिसर में रखे एक भुसखौल ( भूसा रखने वाला) शराब की खेप भी पुलिस ने बरामद की थी। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार कृष्णा पर मोतीपुर के अलावा गोपालगंज में भी शराब के मामले दर्ज हैं। हाल में ही वह जमानत पर छूटकर बाहर आया है। मोतीपुर थानेदार मुकेश कुमार ने कहा कि उसकी सभी फाइलें खंगाली जा रही है।

 

घटना के बाद से है फरार

 

बर्फ फैक्ट्री में विस्फोट होने से मोनू कुमार (17) की मौके पर मौत हो गयी थी। उसका क्षत विक्षत शव मिला था। जबकि दो मजदूर घायल हुए थे। मामले में मृतक मोनू के भाई सोनू ने हत्या का आरोप लगाते हुए संचालक रूपनन्दन राय और उसके बेटे अर्जुन समेत अन्य को आरोपी बनाया था। लेकिन, इस घटना के बाद से सभी आरोपी फरार हैं। पुलिस सभी की तलाश में छापेमारी कर रही है। हालांकि, अबतक कोई भी पकड़ में नहीं आया है।

 

कम्प्रेशर मशीन था खराब

 

इस विस्फोट में घायल हुए राजू से भी पुलिस ने पूछताछ की। उसने बताया कि कम्प्रेशर मशीन में खराबी थी। जिसे ठीक करने में मदद के लिए रूपनन्दन राय, मोनू को लेकर आया था। इसी दौरान अचानक से कम्प्रेशर फट गया। जिसमें मोनू की दर्दनाक मौत हो गयी थी। मृतक के परिजन की माने तो मोनू आरोपी के साथ नहीं जाना चाहता था। उसे जबरन बुलाकर ले गया था। उन्होंने आरोप लगाया है कि जान बूझकर उसे मौत के मुंह मे धकेला गया था।

Share This Article.....

Leave a Reply

Your email address will not be published.